Press "Enter" to skip to content

उपाय / हर दिन को शानदार बनाने के ये हैं वो आसान तरीके

दुनिया बहुत बड़ी है और यहां हर तरह के लोग हैं, हर तरह के विचार हैं। आपके विचार आपको बनाते हैं। यदि आपके विचार सकारात्मक हैं तो आप सकारात्मक होंगे और यदि नकारात्मक विचार हैं तो नकारात्मक बन जाएंगे। आपके विचार ही आपके दिन को शानदार बनाते हैं।

हर दिन को शानदार बनाने की शुरूआत संडे से कीजिए संडे यानी छुट्टी का दिन क्यों कि यह दिन आपका अपना होता है। इस दिन 10 से 15 मिनट तक पूरे सप्ताह की प्लानिंग करने में बिताएं। उस समय अपने पूरे सप्ताह के प्लान के बारे में लिखें अपनी टू डू लिस्ट को देख कर उस हिसाब से तैयारी करें। इससे आप अपने काम को ओर भी ज्यादा बेहतर तरीके से कर सकते हैं।

जो थोड़े से हैं पैसे

एक समय में एक ही काम करें ऐसा करते समय आपको अच्छे परिणाम मिलेंगे और आप अच्छा महसूस करेंगे। इस तरह आपके दुःखों में कटौती होगी। इसके बाद जरूरी बात और वो यह कि पूरे वीक में आप क्या खाने वाले हैं उसकी प्लानिंग और खरीददारी के लिए वीक का कोई एक दिन सुनिश्चित करें। ऐसा करने पर आपकी ऊर्जा, समय और रुपयों की बचत होगी, जिसे अच्छे कामों में लगाएं।

लोगों से रहें कनेक्ट

यह जान लें कि आप बॉलीवुड एक्टर आमिर खान नहीं है जो हर काम को परफेक्शन से करते हैं, आप काम को परफेक्शन से करने की कोशिश करें यदि मुमकिन नहीं तो बेहतर तरीके से करें। यदि किसी कॉर्पोरेट कंपनी के वर्क करते हैं तो दिन में सुबह और शाम ई-मेल, ब्लॉग, ट्विटर और फेसबुक अकाउंट देखना ना भूलें यह सभी तकनीक आपको लोगों से कनेक्ट रखने में काफी हद तक कारगर साबित होती हैं।

व्यक्तित्त्व को ऐसे निखारें

रोज खुद से एक सरल सवाल पूछें जैसे कि क्या मैं परिस्थिति को सरल बनाने के लिए कौन सा कदम उठा रहा हूं? आप इस दुनिया में सभी को खुश करना बंद करें क्योंकि सबसे पहले अपने आपको प्यार करना सीखें। इस दौर में खुद को प्यार करना ही सबसे बड़ी अनमोल बात है। अपनी दिनचर्या की चीजों में हमें दूसरों को खुशी देने वाले काम करने चाहिए जो हमारे व्यक्तित्व को निखारते हैं।

आत्म स्वीकृति को दें महत्व

सही बात की आलोचना करें लेकिन अपने आप से प्यार करना सीखें अपनी बुरी आदतों को छोड़ दें और आत्म स्वीकृति होने पर उसके साथ आगे बढ़ें। निराशाजनक घटनाओं को भूलने की कोशिश करें और पॉजिटिव लोगों के साथ दिनचर्या में मेल-मिलाप रखें। यदि खुद की समस्या को नहीं सुलझा पा रहे हैं तो अपने पेरेन्ट्स से बात करें और यदि फिर भी मामला न सुलझे तो काउंसलर के पास जाने से ना डरें, उसको भी अपना दोस्त मानकर अपनी समस्याओं को शेयर करें और इफेक्टिव गाइडेंस लें।

(आप हमें फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, लिंक्डिन और यूट्यूब  पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।)

More from उड़ानMore posts in उड़ान »

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *