Press "Enter" to skip to content

प्रेरणा / इस वजह से, 8वीं में पढ़ने वाले छात्र ने किया ये आविष्कार

Courtesy: Image tweeted by @AkunSabharwal

तेलंगाना के राजन्ना सिरसीला जिले के हनुमाजीपेट गांव के एक 13 साल के लड़के ने धान भरने की मशीन बनाई है, बिजनेस स्टैंडर्ड की रिपोर्ट के मुताबिक यह डिवाइस किसानों के लिए धान पैकिंग में मदद करेगी।

यह मशीन 8वीं में पढ़ने वाले मारिपल्ली अभिषेक ने बनाई है, जो स्थानीय जिला परिषद हाई स्कूल में कक्षा 8 का छात्र हैं। उनके पिता लक्ष्मीराजन छोटी सी जमीन पर खेती करते थे, लेकिन पारिवारिक स्थिति को सुधारने के लिए वह छह महीने पहले दुबई गए थे। अपनी मां को खेतों में धान भरते हुए देखकर अभिषेक ने इस मशीन का आविष्कार करने का विचार आया, जो धान को बेहद आसानी से पैकिंग में सहायता करती है।

अभिषेक ने मशीन के बारे में अपने शिक्षक वेंकटेशम को बताया, जिन्होंने उसका समर्थन किया और वादा किया कि वह उनकी डिजाइन को अंतिम रूप देने में उनकी मदद करेंगे। मशीन दो पहियों, लोहे की चादर, लोहे के कुछ पाइपों की छड़, वजन और सिलाई मशीन से बनाई गई है। मशीन पोर्टेबल है क्योंकि इसे एक स्थान से दूसरे स्थान पर आसानी से ले जाया जा सकता है। मशीन की कीमत लगभग 5,000 रुपए है।

टीआरएस पार्टी के अध्यक्ष कालवुतुला चंद्रशेखर राव ने युवा प्रतिभा के कार्य की सराहना की है और अभिषेक को1,16,000 रुपए का चेक भेंट किया। उन्होंने आगे आश्वासन दिया कि वह अभिषेक का सारा शिक्षा खर्च वहन करेंगे।

अभिषेक ने एएनआई को बताया कि धान भरने की मशीन किसानों और मजदूरों के लिए मददगार हो सकती है। यह मशीन एक बार में तीन व्यक्तियों का काम कर सकती है। अपनी भविष्य की योजनाओं के बारे में अभिषेक बताते हैं कि अगर सरकार उनका समर्थन करती है तो वह भविष्य में और भी मशीनों का आविष्कार करने के लिए तैयार हैं।

More from उड़ानMore posts in उड़ान »

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *