Press "Enter" to skip to content

रिपोर्ट / भारत में 5.7 करोड़ व्यक्ति शराब के नशे में, 3% लोगों को मिल पाता है उपचार

अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) द्वारा किए गए एक सर्व में बताया गया है कि लगभग 5.7 करोड़ व्यक्ति शराब के नशे में हैं। यह सर्वे (10-75 वर्षीय) लोगों के बीच किया गया। माना जाता है तत्काल इन्हें चिकित्सा की जरूरत है।

हालांकि, चिंताजनक बात यह है कि पीने की समस्या वाले केवल 3% लोगों को उपचार प्राप्त होता है। यह सर्व AIIMS, दिल्ली के अंतर्गत नेशनल ड्रग डिपेंडेंस ट्रीटमेंट सेंटर NDDTC द्वारा संचालित ‘Magnitude of Substance Abuse in India‘ के द्वारा किया गया है।

सर्व में कहा गया कि भारत में 16 करोड़ लोग ऐसे हैं जो शराब पीते हैं और उन्होंने ये जानकारी साझा की है। साथ ही, भारत में लगभग छह करोड़ लोगों को शराब की लत है, जो दुनिया में 172 देशों की आबादी से अधिक है। रिपोर्ट में कहा गया है कि महिलाओं की तुलना में पुरुषों में शराब की लत काफी अधिक है। देश के 1.6% महिलाओं की तुलना में 27.3% पुरुषों ने शराब का सेवन करते हैं। यह सर्वे छत्तीसगढ़, पंजाब और त्रिपुरा में किया गया।

हालही में फाइनेंशियल एक्सप्रेस की रिपोर्ट में बताया गया कि देश में शराब पीने वाले अमूमन लोग कई तरह की ड्रग्स के भी आदी बन रहे हैं। पिछले एक साल में लगभग 3.1 करोड़ भारतीयों ने भांग उत्पादों का सेवन करने की बात कही है। हालांकि, इनमें से 72 लाख लोग भांग (एक तरह का ड्रग्स) पर निर्भर हैं और उन्हें उपचार की आवश्यकता है, लेकिन दुर्भाग्य से, 20 में से केवल एक नशीली दवाओं का अस्पताल में इलाज करा रहे हैं।

यह भी पढ़ें…

सर्वे के अनुसार, ‘पिछले एक साल में लगभग 3.1 करोड़ भारतीयों ने (2.8%) भांग के सेवन की बात स्वीकार की है। भांग के अलावा, 2.2 करोड़ लोगों बाद फार्मास्युटिकल ओपिओइड होता है। लगभग 60 लाख भारतीय हेरोइन और ओपियोइड का उपयोग करते हैं। सर्वे में यह भी कहा गया है कि देश में लगभग 8.5 लाख लोगों ने दवाओं (ड्रग्स) का इंजेक्शन लगाया।’

(आप हमें फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम, लिंक्डिन और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।)

More from सोशल हलचलMore posts in सोशल हलचल »

Be First to Comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *