Press "Enter" to skip to content

सोशल हलचल

प्रतीकात्मक चित्र। भारतीय नेता कोरोना महामारी के वक्त में भी अपनी छबि बनाए रखने का हर संभव प्रयास कर रहे हैं। राज्यों के जनसंपर्क विभाग राज्य सरकार और नेताओं का महिमामंडन करने में व्यस्त है, जो सत्ता में मौजूद नेताओं की थोड़ी सी मदद को विहंगमय बनाकर सोशल मीडिया में…
भारत में कोरोना महामारी की गिरफ्त में जनता बेबस और लाचार है। सांसद, विधायक और पार्षद जिन्हें मदद करनी चाहिए वो ज्यादातर नदारद हैं। कोरोना के कारण अपनों से बिछड़ते या उन्हें इस महामारी में स्वस्थ्य करने की जद्दोजहद में लोग परेशान हैं, उनकी मदद सरकार के उन नुमाइंदो को…
डॉ. वेदप्रताप वैदिक। भारत में फैले कोरोना की प्रतिध्वनि सारी दुनिया में सुनाई पड़ रही है। अमेरिका से लेकर सिंगापुर तक के देश चिंतित दिखाई पड़ रहे हैं। जो अमेरिका कल-परसों तक भारत को वैक्सीन या उसका कच्चा माल देने को बिल्कुल भी तैयार नहीं था, आज उसका रवैया थोड़ा…

कोरोना संकट / गलतियां किसने कीं? अब सिर्फ समाधान पर देना होगा ध्यान

चित्र सौजन्य ‘रायटर्स’ : नई दिल्ली का एक श्मशान जहां कोरोनावायरस से मृत हुए लोगों का सामूहिक दाह संस्कार किया गया। यह बात काफी लोग, कई दिनों से कह रहे हैं, लेकिन तमिलनाडु में विधानसभा चुनाव की मतगणना के दौरान कोविड प्रोटोकॉल के पालन संबंधी एक याचिका की सुनवाई में…

मजबूरी / भारत में ‘सिकुड़ता मध्यम वर्ग’

डॉ. वेदप्रताप वैदिक। कोरोना की महामारी के दूसरे हमले का असर इतना तेज है कि लाखों मजदूर अपने गांवों की तरफ दुबारा भागने को मजबूर हो रहे हैं। खाने-पीने के सामान और दवा-विक्रेताओं के अलावा सभी व्यापारी भी परेशान हैं। उनके काम-धंधे चौपट हो रहे हैं। इस दौर में नेता…

मुसीबत / कोरोना के बीच, पाकिस्तान का नया सिरदर्द

डॉ. वेदप्रताप वैदिक। पाकिस्तान में इमरान-सरकार की मुसीबतें एक के बाद एक बढ़ती ही चली जा रही हैं। उसे तहरीके-लबायक पाकिस्तान नामक राजनीतिक पार्टी पर प्रतिबंध भी लगाना पड़ गया और प्रतिबंध के बावजूद उससे बात भी करनी पड़ रही है। इस पार्टी पर इमरान-सरकार ने प्रतिबंध इसलिए लगाया है…

विदेश नीति / मूक दर्शक नहीं, अब कूटनीतिक और मौलिक पहल जरुरी

डॉ. वेदप्रताप वैदिक। अंतरराष्ट्रीय राजनीति का खेल कितना मजेदार है, इसका पता हमें चीन और अमेरिका के ताजा रवैयों से पता चल रहा है। चीन हमसे कह रहा है कि हम अमेरिका से सावधान रहें और अमेरिका हमसे कह रहा है कि हम चीन पर जरा भी भरोसा न करें।…

आशंका / सीमा पर विदेशी हस्तक्षेप, भारत का औपचारिक विरोध

डॉ. वेदप्रताप वैदिक। फ्रांस और आस्ट्रेलिया के विदेश मंत्रियों के साथ ‘रायसीना डॉयलॉग’ में हमारे विदेश मंत्री सुब्रह्मण्यम जयशंकर ने कहा कि भारत किसी ‘एशियाई नाटो’ के पक्ष में नहीं है। वे रुस और चीन के विदेश मंत्रियों के बयानों पर अपनी प्रतिक्रिया दे रहे थे। उन्होंने अमेरिका, भारत, जापान…

राष्ट्र / अमेरिका के सामने, भारत का कूटनीतिक असमंजस

डॉ. वेदप्रताप वैदिक। अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प के हटने के बावजूद भारत-अमेरिका घनिष्टता बढ़ रही है। पिछले साढ़े तीन महीनों में दोनों राष्ट्रों ने टोक्यो में क्वाड की बैठक की, अमेरिका के रक्षा मंत्री और जलवायु राजदूत भारत आए और दोनों राष्ट्र अफगान मामले में भी एक-दूसरे का…

नक्सलवाद / क्या विकास से संभव है ‘समाधान’, तो अभी तक क्यों नहीं?

डॉ. वेदप्रताप वैदिक। कुछ दिन पहले, छत्तीसगढ़ के टेकलगुड़ा के जंगलों में 22 जवान मारे गए और दर्जनों घायल हुए। माना जा रहा है कि इस मुठभेड़ में लगभग 20 नक्सली भी मारे गए। यह नक्सलवादी आंदोलन बंगाल के नक्सलबाड़ी गांव से 1967 में शुरु हुआ था। इसके आदि प्रवर्तक…

भारत-रूस / भारत की भूमिका में, कौन-सी समस्याएं हैं ‘सामने’

Picture courtesy : Russian Embassy in India डॉ. वेदप्रताप वैदिक। रूसी विदेश मंत्री सर्गेइ लावरोव और भारतीय विदेश मंत्री जयशंकर के बीच हुई बातचीत के जो अंश प्रकाशित हुए हैं और उन दोनों ने अपनी पत्रकार-परिषद में जो कुछ कहा है, अगर उसकी गहराई में उतरें तो आपको थोड़ा-बहुत आनंद…

वामपंथ / जब लेफ्ट फील करता है ‘राइट’

सामाजिक और आर्थिक न्याय की खोज एक ऐसे समय में अधिक मजबूत, निष्पक्ष और स्वाभिमानी व्यवस्था का आह्वान करती है जब वामपंथी दुनिया भर में बदनाम हो जाते हैं। जब वामपंथी और दक्षिणपंथी दोनों ही ताकतें आक्रामक हो रही हैं और विचारों का आदान-प्रदान करना मुश्किल हो गया है, तो…

महाराष्ट्र / नैतिकता के नाम पर, ‘राजनीति, भ्रष्टाचार और इस्तीफा’

डॉ. वेदप्रताप वैदिक। महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख का इस्तीफा काफी पहले ही हो जाना चाहिए था। लेकिन हमारे नेताओं की खाल इतनी मोटी हो चुकी है कि जब तक उन पर अदालतों का डंडा न पड़े, वे टस से मस होते ही नहीं। देशमुख ने अपने पुलिसकर्मी सचिव वझे…

राजनीति / …तो क्या मौजूदा सरकार की रणनीति है, गलत मौके पर सही कार्रवाई?

डॉ. वेदप्रताप वैदिक। चुनावों के दौरान सत्तारुढ़ और विपक्षी दलों के बीच भयंकर कटुता का माहौल तो अमूमन हो ही जाता है लेकिन इधर पिछले कुछ वर्षों में हमारी राजनीति का स्तर काफी नीचे गिरता नजर आ रहा है। केंद्र सरकार के आयकर-विभाग ने तृणमूल कांग्रेस के नेताओं पर छापे…

साइबर क्राइम / 10 करोड़ भारतीयों का निजी डेटा खतरे में, ‘डार्क’ वेब पर बेचा जा रहा

प्रतीकात्मक चित्र। यह मोबाइल से लेनदेन करने वालों को सतर्क करने वाली खबर है। साइबर सिक्योरिटी रिसर्चर राजशेखर राजहारिया और फ्रेंच साइबर सिक्योरिटी एक्सपर्ट ईलियट एंडरसन का दावा है कि 10 करोड़ भारतीयों का व्यक्तिगत डेटा एक हैकर फोरम ‘डार्क’ वेब पर बेचने के लिए डाला गया है। एक हिंदी…