Press "Enter" to skip to content

भारत में बेरोजगारी

क्या आपने कभी एक आंत्रप्रन्योर (उद्यमी) और एक व्यापारी (बिजनेसमैन) के बीच अंतर के बारे में सोचा है? इन दोनों के बीच कई समानताएं हैं। वे दोनों ही नौकरी देते हैं और उपभोक्ताओं को समाधान, जिसके कारण राष्ट्र की अर्थव्यवस्था बेहतर होती है। अधिकांश आंत्रप्रन्योर कुछ अर्थों में बिजनेसमैन हैं।…
आपकी पृष्ठभूमि चाहे जो भी हो, समय कठिन चल रहा है या आप जिस भी देश में रहते हों, वहां मंदी छाई हो, क्या आप बेरोजगार हैं? फिर भी यकीन कीजिए! आप काम की तलाश जब करने निकलते हैं तो कोई न कोई बेहतर काम आपकी तलाश को पूरा करता…
प्रतीकात्मक चित्र ‘आम आदमी’। भारत में शिक्षित बेरोजगारी इतनी ज्यादा है कि यदि केंद्र सरकार लाखों पद पर किसी विभाग में वेकेंसी निकाले तो फिर भी कई करोड़ शिक्षित युवा बेरोजगार ही रहेंगे। इसकी कई वजह हैं। सरकार और आला दर्जे के अधिकारी कहते हैं कि युवाओं में स्किल्स की…

हक़ीकत / देश में बेरोजगारी? तो क्या स्टार्टअप्‍स को राहत दे रही है सरकार

भारत में इन दिनों बेरोजगारी काफी बड़े स्तर पर है। केंद्र और राज्य सरकार भले ही कई दावे करें, लेकिन हक़ीकत कुछ और ही बयां कर करती है। बेरोजगारी को बताने वाली कई रिपोर्ट इंटरनेट पर गूगल सर्च के दौरान मिल जाएंगी, लेकिन देश में बेरोजगारी के अलावा एक ओर…