Press "Enter" to skip to content

Taliban

चित्र : श्रीनगर स्थित लाल चौक। डॉ. वेदप्रताप वैदिक। लेखक, भारतीय विदेश नीति परिषद के अध्यक्ष हैं। पिछले ढाई महिने से भारत की विदेश नीति बगले झांक रही थी। अब वह धीरे-धीरे पटरी पर आने लगी है। जब से तालिबान काबुल में काबिज हुए हैं, अफगानिस्तान के सारे पड़ौसी देश…
डॉ. वेदप्रताप वैदिक। पिछले दिनों, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अमेरिका-यात्रा भारतीय मीडिया में तीन-चार दिन छाए रही। सभी टीवी चैनलों और अखबारों में उसे सबसे ऊंचा स्थान मिला लेकिन हम अब उस पर ठंडे दिमाग से सोचें, यह भी जरुरी है। अमेरिकी यात्रा में दो बातें ऐसी हुईं, जिन्हें हम…
चित्र : संयुक्त राष्ट्र महासभा। डॉ. वेदप्रताप वैदिक, लेखक अफगान मामलों के विशेषज्ञ हैं। संयुक्त राष्ट्र संघ के वार्षिक अधिवेशन में इस बार अफगानिस्तान भाग नहीं ले पाएगा। जरा याद करें की अशरफ गनी सरकार ने कुछ हफ्ते पहले ही कोशिश की थी कि संयुक्त राष्ट्र महासभा के अध्यक्ष का…

त्रासदी / 9-11 से जुड़े ये 9 सवाल, जिनके जवाब सिर्फ यहां हैं

चित्र : अमेरिका इतिहास का वो दृश्य जब अमेरिका के विश्व प्रसिद्ध वर्ल्ड ट्रेड टॉवर और पेंटागन को निशाना बनाया। अमेरिकी इतिहास में 9/11 यानी 11 सितम्बर 2001 एक दु:खद त्रासदी है, जब अल कायदा के आतंकवादियों ने, यात्री विमानों को मिसाइल की तरह इस्तेमाल करते हुए अमेरिका के विश्व…

तर्कसंगत / अफगानिस्तान में ‘इस्लामी लोकतंत्र’ का समाधान है ‘लोया जिरगा’!

चित्र : अफगानिस्तान का काबुल शहर। डॉ. वेदप्रताप वैदिक, लेखक, अफगान मामलों के विशेषज्ञ हैं। अफगानिस्तान की तालिबान सरकार को एकदम मान्यता देने को कोई भी देश तैयार नहीं दिखता। इस बार तो 1996 की तरह सउदी अरब और यूएई ने भी कोई उत्साह नहीं दिखाया। अकेला पाकिस्तान ऐसा दिख…

काबुल / क्या अफगानिस्तान मामले में, भारत की कोई ‘मौलिक नीति’ नहीं?

चित्र : काबुल हवाई अड्डे पर हुए जवाबी हमले के बाद का दृश्य। डॉ. वेदप्रताप वैदिक, लेखक वरिष्ठ पत्रकार हैं। काबुल हवाई अड्डे पर हुए हमले के जवाब में अमेरिका ने दो हमले किए। एक जलालाबाद और दूसरा काबुल में। अमेरिकी राष्ट्रपति ने घोषणा की थी कि वे उन हत्यारों…

अफगानिस्तान / नौकरशाहों की नीति, ‘बैठे रहो, देखते रहो’, और ‘नेताओं की नीति’…?

चित्र : अफगानिस्तान का मानचित्र। डॉ. वेदप्रताप वैदिक, लेखक, अफगान मामलों के विशेषज्ञ हैं। वे अफगान नेताओं के साथ सतत संपर्क में हैं। भारत सरकार की अफगान नीति पर हमारे सभी राजनीतिक दल और विदेश नीति के विशेषज्ञ काफी चिंतित हैं। उन्हें प्रसन्नता है कि तालिबान भारतीयों को बिल्कुल भी…

काबुल / अफगानिस्तान मामले में क्या है भारत का रुख

डॉ. वेदप्रताप वैदिक, लेखक, अफगान मामलों के विशेषज्ञ हैं। वे अफगान नेताओं के साथ लगातर संपर्क में हैं। अफगानिस्तान के मामले में भारत सरकार के रवैए में इधर थोड़ी जागृति आई है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जर्मन चांसलर एंजला मर्केल और रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पूतिन से बात की। संयुक्त राष्ट्रसंघ…

अफगानिस्तान / …तो क्या बीजेपी नेताओं में ‘विदेश नीति’ की समझ नहीं?

डॉ. वेदप्रताप वैदिक, लेखक, भारतीय विदेश नीति परिषद के अध्यक्ष और अफगान मामलों के विशेषज्ञ हैं। हमारा विदेश मंत्रालय सभी प्रमुख पार्टियों के नेताओं को अफगानिस्तान के बारे में जानकारी देगा। क्या जानकारी देगा? वह यह बताएगा कि उसने काबुल में हमारा राजदूतावास बंद क्यों किया? दुनिया के सभी प्रमुख…

संभावना / …तो क्या इस ‘एक वजह’ से हो सकता है ‘कश्मीर मामला’ हल?

चित्र साभार : वीकिपीडिया/ जम्मू कश्मीर/लद्दाख क्षेत्र का मानचित्र। डॉ. वेदप्रताप वैदिक। लेखक, पाक-अफगान मामलों के विशेषज्ञ हैं। यदि जर्मनी के अखबार ‘डेर स्पीगल’ में छपी यह खबर सही है तो मानकर चलिए कि अब अफगानिस्तान ही नहीं, पूरे दक्षिण एशिया के अच्छे दिन आने ही वाले हैं। जो बात…

भारत-रूस / भारत की भूमिका में, कौन-सी समस्याएं हैं ‘सामने’

Picture courtesy : Russian Embassy in India डॉ. वेदप्रताप वैदिक। रूसी विदेश मंत्री सर्गेइ लावरोव और भारतीय विदेश मंत्री जयशंकर के बीच हुई बातचीत के जो अंश प्रकाशित हुए हैं और उन दोनों ने अपनी पत्रकार-परिषद में जो कुछ कहा है, अगर उसकी गहराई में उतरें तो आपको थोड़ा-बहुत आनंद…

सलाह / इस वजह से, भारत को अपनी खिड़की तालिबान के लिए खुली रखनी होगी

डॉ. वेदप्रताप वैदिक। लेखक अफगान मामलों के विशेषज्ञ हैं और सभी अफगान खेमों के नेताओं से उनका सीधा संपर्क है। अफगानिस्तान के तालिबान संगठन ने भारत के प्रति अपने रवैए में एकदम परिवर्तन कर दिया है। पाकिस्तान के लिए तो यह एक बड़ा धक्का है लेकिन यह रवैया हमारे विदेश…