Chenab River

All Picture (Kanjam Pass/Manali/Kaaza) Courtesy: Amrit Singh अमृत सिंह। बौद्ध दर्शन के प्रकांड विद्वान, अर्थशास्त्री व यायावर कृष्णनाथ जी ने ‘स्पीति में बारिश’ में कुंजम दर्रे का ज़िक्र कुछ इस तरह किया है,’यह द्रौपदी तीर्थ है। किंवदन्ती है कि द्रौपदी यहां आकर गलीं। उनके प्रतापी पांच पति स्वर्गारोहण के लिए…
स्पीति के रंग: यात्रा के पहले भाग में हम रिकांग पिओ से चले थे और काज़ा स्पीति नदी के तट, पिन घाटी से मुद गांव के रास्ते मोनेस्ट्री पहुंचे थे जहां तिब्बती बुद्धिज़्म के सबसे नए स्वरुप जेलपु विचारधारा के बारे में हमने जाना। अब आगे… हम बहुत ऊंचाई पर…
यह बात है आज से 3 साल पहले यानी जून 2016 की, मैं रिकांग पिओ (रिकांग पिओ, हिमाचल प्रदेश के किन्नौर जिले का मुख्यालय है।) के बस अड्डा पर था। चंडीगढ़ से हिमाचल परिवहन की बस में 320 किलोमीटर का सफर 12 घंटों में तय कर शाम लगभग 7 बजे…