Press "Enter" to skip to content

Buddhism

दलाई लामा ऑनलाइन प्रवचन देते हुए/ चित्र सौजन्य : तेनज़िन जैम्फेल। दलाई लामा, लेखक आध्यात्मिक गुरू हैं। तिब्बत में बौद्ध धर्म की स्थापना नालंदा परंपरा के आचार्य शांतरक्षित ने की थी। हम भारत से प्राप्त त्रिपिटकों का अध्ययन करते हैं और तीन प्रशिक्षणों की साधना में संलग्न होते हैं। यही…
अखिल पाराशर, ल्हासा/तिब्बत। तिब्बत, ‘छिंगहाई-तिब्बत पठार’ पर स्थित है, जो दुनिया का सबसे ऊंचा पठार है। यहां प्रकृति की शांत-सुंदरता का आनंद लिया जा सकता है। तिब्बत उत्साही पर्यटकों के लिए सबसे आकर्षक यात्रा स्थलों में से एक बन गया है। इतना ही नहीं, यदि यहां कोई तीर्थ यात्रा में…
चित्र : जोखांग मठ, तिब्बत। अखिल पाराशर, ल्हासा/तिब्बत। जोखांग मठ, तिब्बत की राजधानी राजधानी ल्हासा में स्थित एक प्रसिद्ध बौद्ध मठ है, जो विश्वभर से आए हजारों यात्रियों और बौद्ध धर्म को मानने वाले लोगों को अपनी ओर आकर्षित करता है। इसका निर्माण 1300 साल पहले तिब्बत के राजा सोंगत्सेन…

विमर्श / पुलिस कार्रवाई में ‘सहानुभूति और करुणा’ क्यों है जरूरी

चित्र: कोरोना काल में भारतीय पुलिस एक वृद्ध महिला की मदद करते हुए। दलाई लामा, लेखक आध्यात्मिक गुरू हैं। चीन दुनिया का सबसे अधिक आबादी वाला देश है, इसकी प्राचीन संस्कृति है और पारंपरिक रूप से वह बौद्ध मताबलंबी बहुल देश है। लेकिन वहां कोई आजादी नाम की चीज नहीं…

धरोहर / प्राकृतिक सौंदर्य, शांति और विरासत का संयोग है सांची

चित्र सौजन्य : विकीपीडिया। प्राकृतिक सौंदर्य, शांति और स्मृतियों को सदियों से संजोकर रखने वाली सांची वो ऐतिहासिक जगह है, जो भारत के मध्य, मध्यप्रदेश में मौजूद है। यूं तो सांची की ऐतिहासिक विरासत को बार-बार लिखा गया है लेकिन कुछ बातें अभी भी बताने और देखने के लिए यहां…

वर्चुअल यात्रा / कुछ इस तरह बनाया गया था दुनिया का सबसे बड़ा प्राचीन मंदिर

दुनिया में सनातन धर्म उतना ही पुराना है, जहां तक आपसी सोच पहुंच सकती है। लेकिन यहां हम 12वीं शताब्दी की बात करें तो उस समय अंकोरवाट मंदिर, दुनिया का सबसे बड़ा प्राचीन धार्मिक स्थल था। हिंदू धर्म के भगवान विष्णु को समर्पित यह मंदिर विशाल परिसर में बना है,…

समाज / कहीं धर्म परिवर्तन तो कहीं अपने मूल धर्म में वापिस आते वो लोग

प्रतीकात्मक चित्र। धर्म परिवर्तन एक ऐसा मुद्दा है जो सदियों से हैं, और सदियों तक रहेगा! लेकिन ये क्यों है? इस सवाल के कई उत्तर हो सकते हैं। कई विवादास्पद तो कई तर्क पर आधारित। तो कई ऐसे सवाल जो एक सभ्य समाज जहां धर्म लोगों को जोड़े रखने का…